म्यूच्यूअल फण्ड क्या है और कैसे निवेश करें

सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला म्यूच्यूअल फण्ड 2022 | म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | म्यूचुअल फंड प्रकार | म्यूचुअल फंड के नुकसान

म्यूच्यूअल फंड क्या है? हममें से कई लोगों को पता होगा कि म्यूच्यूअल फंड क्या होता है, लेकिन आज भी बहुत से लोग हमारे देश में ऐसे भी हैं जिन्हें इसके बारे में पता ही नहीं होगा। तो आज हम उनको समझाने के लिए बहुत ही सरल भाषा में बतायेंगे कि म्यूच्यूअल फण्ड क्या है, म्यूच्यूअल फंड कितने प्रकार का होता है, म्यूच्यूअल फंड सही है या गलत, म्यूच्यूअल फंड पैसे कैसे लगायें इन सभी चीजों को विस्तार से जानेंगे।

आपमें से कई लोगों को ये पता नहीं होगा कि पैसे का मूल्य समय के साथ गिरता रहता है यानी कि अगर कोई चीज़ आज 100 रूपये की है तो वो चीज़ निश्चित रूप से अगले साल 105 रूपये या 110 रूपये होगी। पैसे कि कीमत का इस प्रकार से गिरना ही मुद्रास्फीति कहलाता है, और लोग इसी से बचने के लिए अपने पैसे को स्टॉक मार्केट, गोल्ड, प्रापर्टी, Bonds आदि जगहों पर निवेश करते हैं।

और आज के समय में म्यूच्यूअल फंड में निवेश करने को सबसे सही माना जाता है, जितना रिटर्न आपको म्यूच्यूअल फंड स्कीम में मिल सकता है उतना शायद ही कहीं और इनवेस्ट करने पर आपको मिलता होगा।

Table of Contents

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है- What is Mutual funds in Hindi

म्यूच्यूअल फंड का मतलब होता है कई लोगों से इकट्ठा किये हुए पैसे को स्टॉक, बॉन्ड, रियल स्टेट इत्यादि जगहों पर निवेश करना, म्यूचुअल फंड में लाखों, करोड़ों लोगों का पैसा लगा होता है, और इसका मकसद उन लोगों को अच्छा रिटर्न दिलाना होता है।

म्यूच्यूअल फंड को मैनेज करने के लिए बहुत बड़े बड़े म्यूच्यूअल फंड हाउस होते हैं जिनके पास ये सारा पैसा जाता है। और निवेशकों के द्वारा लगाये गये पैसे के बदले उनको म्यूच्यूअल फंड यूनिट दे दिया जाता है। इस यूनिट को ही NAV कहा जाता है।

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है
म्यूच्यूअल फण्ड क्या है

इन कंपनियों में बड़े बड़े निवेश होते हैं जिनके द्वारा इन सारे पैसे को अलग अलग जगहों पर सही से इस्तेमाल किया जाता है। इकट्ठा किये गये सारे पैसे को ये मैनेजर स्टॉक मार्केट, बॉन्ड, रियल स्टेट, मनी मार्केट आदि जगहों पर निवेश करते हैं।

म्यूच्यूअल फंड को कौन मैनेज करता है?

किसी भी म्यूच्यूअल फंड हाउस के द्वारा अपने यहाँ पर बड़े बड़े म्यूच्यूअल फंड मैनेज नियुक्त किये जाते हैं, जो हमारे द्वारा दिये गये पैसे को स्टॉक मार्केट, बॉन्ड, रियल स्टेट, मनी मार्केट आदि जगहों पर इन्हीं फंड मैनेजर्स के द्वारा निवेश किया जाता है। लोगों के द्वारा Invest किये गये पैसे को कहाँ पर निवेश करना है कहाँ पर निवेश नहीं करना है, ये सारी जिम्मेदारी फंड मैनेजर्स को दे दी जाती है।

और इन पैसों को ये फंड मैनेजर्स ऐसा जगहों पर निवेश करते हैं जहाँ से उन्हें अच्छा रिटर्न मिल सके, और जोखिम भी कम हो, फंड मैनेजर्स सारे पैसे को एक ही जगह पर निवेश नहीं करते हैं, वो अलग अलग जगहों पर इसका निवेश करते हैं ताकि Risk कम रहे।

ये सब मैनेज करने के बदले में ये फंड मैनेजर्स लोगों से कुछ पैसे चार्ज करते हैं जोकि हर म्यूच्यूअल फंड हाउस के अलग अलग होते हैं।

> Nippon India Small Cap Fund In Hindi 2022

म्यूच्यूअल फंड प्रकार- Types of Mutual funds

म्यूच्यूअल फंड को अगर हम मौटे तौर पर देखें तो 5 प्रकारों में वर्गीकृत किया है, लेकिन फिर इन प्रकारों के भी प्रकार होते हैं तो चलिए हम आपको एक एक करके बताते हैं म्यूच्यूअल फंड प्रकार

• इक्विटी फंड- ये म्यूच्यूअल फंड का एक प्रकार है, जिसमें ज्यादातर पैसा अलग अलग कंपनियों के शेयर खरीदने के लिए इस्तेमाल होते हैं। अब इक्विटी फंड के भी कई प्रकार होते हैं जैसे-


• लार्ज कैप फंड


• मिड कैप फंड


• स्मॉल कैप फंड


इनके बारे में हम किसी और आर्टिकल में विस्तार से जानेंगे।

डेट फंड– इस म्यूच्यूअल फंड के द्वारा मुख्य रूप से सरकार की योजनाओं में पैसे लगाये जाते हैं जैसे- सरकारी बॉन्ड, कॉरपोरेट बॉन्ड, डिबेंचर आदि जगहों पर निवेश किया जाता है।

हाइब्रिड फंड– इस फंड के द्वारा इक्विटी और फिक्स्ड इनकम सिक्योरिटी में निवेश किया जाता है।

• इसके अलावा इंडेक्स फंड और फंड ऑफ फंड्स भी म्यूच्यूअल फंड के प्रकार होते हैं।

अगर हम सही से म्यूच्यूअल फंड के प्रकार की बात करें तो 1700 से भी अधिक म्यूचुअल फंड स्कीम हैं जहाँ पर लोगों के द्वारा निवेश किया जाता है।

म्यूच्यूअल फंड के काम करने का तरीका- How Mutual fund Work

मुझे आशा है कि आप सब को अब पता चल गया होगा कि म्यूचुअल क्या होता है। आईये अब जानते हैं ये किस प्रकार से काम करता है?

म्यूच्यूअल फंड भी शेयर मार्केट का ही एक हिस्सा होता है, जब किसी इंसान के पास शेयर मार्केट में निवेश करने का समय नहीं होता क्योंकि शेयर मार्केट से अच्छा पैसा कमाने के लिए शेयर के बारे में सारी जानकारी हासिल करना पड़ता है, और इसमें अत्यधिक रिसर्च और समय की जरूरत होती है। तो अगर आप बिना रिसर्च किये ही शेयर मार्केट से आप पैसा कमाने के बारे में सोच रहे हैं तो ये बहुत ही मुश्किल होता है।

इसलिए हम म्यूच्यूअल फंड में निवेश करते हैं ताकि हमारा पैसा कोई और शेयर मार्केट में अच्छी जगह पर निवेश करे, और फंड मैनेजर्स का तो काम ही होता है अच्छे स्टॉक को ढूंढ कर पैसा उसमें निवेश करना। इसलिए अगर आपके पास समय नहीं है तो आप म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर सकते हैं।

म्यूच्यूअल फंड छोटे या फिर बड़े निवेशकों के पैसे को प्रोफेशनल फंड मैनेजर्स बहुत ही कम लागत पर आपको ये सुविधा प्रदान करते हैं।

> Best Mutual Funds Scheme

> स्टॉक मार्केट क्या है?

म्यूच्यूअल फंड को सेबी के द्वारा रेगुलेट किया जाता है

म्यूच्यूअल को SEBI यानी कि ( Securities exchange Board of India) के द्वारा रेगुलेट किया जाता है। सेबी का काम होता है सभी प्रकार के म्यूच्यूअल फंड हाउस पर नियंत्रण रखना। इसलिए म्यूच्यूअल में निवेश करना सुरक्षित माना जाता है क्योंकि SEBI के द्वारा इसकी देख रेख होती रहती है।

म्यूच्यूअल फंड में निवेश कैसे करें-

आज सभी लोगों के पास स्मार्ट फोन आ गये हैं, और आप घर बैठे ही बिना कहीं पर गये आसानी से मोबाइल से ही Mutual funds में निवेश कर सकते हैं।

अगर हम म्यूच्यूअल फंड प्लेटफार्म की बात करें तो आप Groww Mutual funds app या फिर Angel one Mutual fund में जाकर अपने पसंदीदा म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर सकते हैं। अगर आप सचमुच अपना म्यूच्यूअल फंड अकाउंट बनाना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करके बहुत ही आसानी से अपना अकाउंट बना सकते हैं।

म्यूचुअल फंड सही है या गलत

ये कह पाना कि म्यूच्यूअल फंड सही या फिर गलत बड़ा ही मुश्किल है। क्योंकि कई बार तो म्यूच्यूअल फंड ने लोगों को बंपर रिटर्न दिये हैं तो कई बार इसने लोगों के पैसे को डुबाया भी है। लेकिन ये भी पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप अपने पैसे को किस म्यूच्यूअल फंड स्कीम में लगा रहा हैं।

यानी कि अगर आप अच्छे म्यूच्यूअल फंड में निवेश करते हैं, तो आपका बहुत कम ही चांस है कि पैसा डुबेगा, लेकिन अगर आप किसी ऐसे म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर देते हैं जो आपको ज्यादा रिटर्न देने का लालच देता है।

इसलिए आप हमेशा ऐसे म्यूच्यूअल फंड स्कीम में निवेश करने से पहले थोड़ा का रिसर्च जरूर कर लें, और तभी उसमें निवेश करें।

सबसे बेस्ट म्यूच्यूअल फण्ड कौन सा है?

अब हम आपको बताते हैं कि सबसे बेस्ट म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम कौन सी है जहाँ पर आप आसानी से और बिना किसी ज्यादा रिस्क के निवेश कर सकते हैं।

• Axis Bluechip Fund

• Parag Parikh Long Term Equity Fund

• UTI Flexi Cap Fund

• Axis Midcap Fund

• SBI Smallcap Fund

• Axis Smallcap Fund

• Mirare Assets Hybrid Equity Fund

• Kotak Emerging Equity Fund

ये सभी म्यूच्यूअल फंड स्कीम बहुत ही अच्छी हैं, जहाँ पर आप Minimum 500 रूपये से निवेश शुरू कर सकते हैं। लेकिन आपसे आग्रह है कि आप इन म्यूच्यूअल फंड में निवेश करने से पहले रिसर्च जरूर कर लें, और निवेश अपने Risk पर ही करें, दूसरे के बहकावे में आकर आप इनमें निवेश ना करें।

> Top 3 SBI Mutual Funds Schemes in Hindi

सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले म्यूच्यूअल फण्ड 2022

उन सब म्यूच्यूअल फण्ड के अलावा भी कई ऐसे म्यूच्यूअल फण्ड हैं जिनमें आगे आने वाले पांच सालों में बेहतरीन रिटर्न देने की पूरी क्षमता है, लेकिन जहाँ पर ये म्यूच्यूअल 30% से 35% तक रिटर्न देने की क्षमता रखते हैं वहीं पर इनमें Risk भी बहुत ही ज्यादा होता है।

इसलिए निवेश करने से पहले सावधानी जरूर बरतें और अपने रिस्क लेने की क्षमता पर ही जितना हो सके निवेश करें। आपको इस टेबल में उन सभी म्यूच्यूअल फंड स्कीम की जानकारी मिल जायेगी जो 2022 निवेश करने लायक और सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम हैं।

Mutual Fund NameFund SizeMinimum SIPCurrent NAVExpense RatioExpected Return
Quant Infrastructure Fund621 Cr1000 rupees23 rupees0.67%34% annual
PGIM India Midcap Fund6000 Cr1000 rupees50 rupees0.45%30% annual
SBI Contra direct fund5300 Cr500 rupees231 rupees1.20%24% annual
Mirae asset tax saver fund12615 Cr500 rupees35 rupees0.57%22% annual
Axis midcap fund18776 Cr500 rupees78 rupees0.51%21% annual
सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले म्यूच्यूअल फण्ड 2022

म्यूच्यूअल फंड निवेश करने के तरीके

म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में आप दो तरह से निवेश कर सकते हैं-

SIP

Lumpsum

लेकिन इन दोनों तरीकों में से जो सबसे ज्यादा लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है वो है SIP यानी (Systemic Investment Plan) जिसमें आप एक निश्चित राशि जोकि 500 से लेकर कुछ भी हो सकती है जो आप चुने हर महीने आपके बैंक खाते से कटती रहेगी और आपके द्वारा चुने गए म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में अपने आप निवेश होती रहेगी। इसके लिए आपको कहीं पर जाने की जरूरत नहीं पडे़गी।

SIP के बारे में डिटेल से जानने के लिए यहाँ पर क्लिक करें

इसके अलावा अगर आप Lumpsum के द्वारा म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा लगाना चाहते हैं तो आपको एक निश्चित राशि को एक बार में ही निवेश करना होती है, जोकि आप चुन सकते हैं कि आप कितनी राशि लगाना चाहते हैं।

इसमें एक बार निवेश के बाद आपको दूबारा पैसा नहीं डालना होता है, और जब आपके द्वारा निवेश की गई राशि का समय पूरा हो जायेगा जोकि समय आप ही निश्चित करेंगे कि कितने समय के लिए ये राशि निवेश करनी है, तो वो पैसे आपको मिल जायेंगे।

म्यूच्यूअल फण्ड में कितने रूपये से निवेश शुरू हो सकता है-

वैसे तो आप किसी म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में 500 रूपये से ही शुरू कर सकते हैं, लेकिन आजकल कई ऐसे भी म्यूच्यूअल फण्ड हैं जिनमें आप केवल 100 रूपये महीने से ही निवेश शुरू कर सकते हैं और बाकी आपकी इच्छा आप इससे ज्यादा पैसों से भी इसमें निवेश शुरू कर सकते हैं।

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के फायदे

वैसे तुम म्यूचुअल फंड में निवेश करने की अपने कई फायदे हैं लेकिन हम आपको यहां पर कुछ फायदों के बारे में बता देते हैं-

टैक्स में छूट

दोस्तों अगर आप शेयर मार्केट में अपना पैसा निवेश करते हैं तो आपको प्रॉफिट होने पर भारी भरकम टैक्स का भुगतान करना पड़ता है लेकिन अगर आप म्यूचुअल फं में पैसे निवेश करते हैं तो आपको बहुत ही कम टैक्स का भुगतान करना पड़ता है और उसमें भी कई म्यूचुअल फंड में तो टैक्स बेनिफिट भी प्राप्त होता है.

प्रोफेशनल मैनेजमेंट

शेयर मार्केट में आपको अपने पोर्टफोलियो को खुद ही मैनेज करना पड़ता है लेकिन म्यूचुअल फंड में आपके पैसे को प्रोफेशनल लोगों के द्वारा मैनेज किया जाता है.

सस्ता

शेयर मार्केट में बड़ी कंपनियों में निवेश करने के लिए आपको ज्यादा पैसे की जरूरत होती है लेकिन आप म्यूचुअल फंड में केवल ₹500 से लेकर ₹1000 में ही निवेश शुरू कर सकते हैं.

सुविधा

म्यूचुअल फंड में निवेश करना बहुत ही आसान है इसके अलावा इसमें से पैसे निकालना भी बहुत ही आसान है क्योंकि अब आप आपने मोबाइल से ही ये सारे काम कर सकते हैं.

Diversity

शेयर मार्केट में जहां पर आप एक समय में एक ही जगह पर पैसा निवेश कर सकते हैं वहीं पर आपको म्यूचुअल फंड में बहुत ही ज्यादा विविधता होती है क्योंकि आपका पैसा कई कंपनियों में निवेश किया जाता है.

इसके अलावा mutual फंड में निवेश करने के कई सारे अपने फायदे हैं इसलिए आप पहले रिसर्च करें कि आपको कौन से फंड में निवेश करना है फिर उसके बाद ही उस फंड में निवेश करें.

म्यूच्यूअल फंड के नुकसान?

किसी भी सिक्के के हमेशा दो पहलू जरूर होते हैं यानी की अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड से ज्यादा रिटर्न पा सकते हैं तो म्यूच्यूअल फंड के नुकसान भी कई हैं तो चलिए हम जानते हैं कि म्यूच्यूअल फंड के नुकसान क्या क्या हैं-

• म्यूच्यूअल फंड का सबसे बड़ा नुकसान तो यही है कि इसमें रिटर्न को कोई निश्चितता नहीं होती है यानी की आपको कितना रिटर्न मिलेगा यह निश्चित नहीं है।

• जब हम म्यूच्यूअल फंड में निवेश करते हैं तो वो किसी ना किसी फंड हाउस के माध्यम से करते हैं और ये फंड हाउस हमसे Expense Ratio लेते हैं क्योंकि वो हमारे लिए सारे काम करते हैं तो बिना फायदे के तो वो काम नहीं करेंगे इसलिए 0.2% से लेकर 2% तक वो आपसे वसूलते हैं।

• हालांकि म्यूच्यूअल फंड स्कीम में स्टॉक मार्केट से कम ही रिटर्न मिलता है, लेकिन ये स्टॉक मार्केट से कम रिस्की होते हैं।

• म्यूच्यूअल फंड स्कीम में 1 लाख से अधिक मुनाफा होने पर आपको 10% ले लेकर 15% तक का टैक्स सरकार को देना होता है।

इसके अलावा भी म्यूच्यूअल फंड के नुकसान होते हैं, लेकिन ये बहुत ही कम होता है इसलिए आपको ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं होती है।

FAQ

Q- म्यूच्यूअल फंड क्या है और कैसे काम करता है?

Ans- आसान शब्दों में कहें तो म्यूचुअल फंड बहुत सारे लोगों के पैसे से बना एक फंड (Fund) होता है. यहां पर एक फंड मैनेंजर होता है, जो फंड को सुरक्षित तरीके से थोड़ा-थोड़ा करके अलग-अलग जगह पर निवेश करते हैं.

Q- म्यूचुअल फंड में कितना ब्याज मिलता है?

Ans- म्यूचुअल फंड में कितना रिटर्न मिलेगा इसकी कोई गारंटी नहीं है कभी रिटर्न ज्यादा मिलता है तो कभी कम

Q- म्यूच्यूअल फण्ड में कैसे निवेश करें?

Ans-  आप Upstox, Groww जैसी मोबाइल एप्प में अकाउंट खोलकर आसानी से म्यूच्यूअल फण्ड ख़रीद सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के समय में म्यूचुअल फंड निवेश करने का एक बेहतरीन तरीका बन गया है जिसमे हर साल लाखों लोग निवेश कर रहे हैं, और भारत में भी म्यूचुअल फंड में निवेश करने का चलन बहुत ही तेजी से बढ़ रहा है इसलिए अगर आप भी म्यूच्यूअल फंड में निवेश करें तो बहुत ही समझदारी, रिसर्च के साथ ही और अपने रिस्क पर ही निवेश करें।

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने सीखा कि म्यूच्यूअल फंड क्या होता है इसके फायदे क्या है, इसके नुकसान क्या है, आप म्यूचुअल फंड में किस प्रकार से निवेश कर सकते हैं इत्यादि बातों को इसके अलावा अगर आपको म्यूच्यूअल फंड से जुड़ी कोई और भी जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Leave a Comment

करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया
करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया