World Population Day 2021 तिथि, विषय, इतिहास और दिन का महत्व

 विश्व जनसंख्या दिवस 2021 (World Population Day 2021) 

World Population Day
World Population Day 2021

हर साल 11 जुलाई को दुनिया विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day) के रूप में मनाती है। किसी राष्ट्र की जनसंख्या के आकार का उसके विकास और संचालन पर बड़ा प्रभाव पड़ता है। किसी देश की जनसंख्या जितनी अधिक होती है, उसका विकास उतनी ही तेजी से करना कठिन होता है। नतीजतन, हमारे मौजूदा संसाधनों के दीर्घकालिक विकास को सुनिश्चित करने के लिए, राष्ट्रीय या वैश्विक स्तर पर, अधिक जनसंख्या को कम करना आवश्यक है। World Population Day 2021

 दुनिया की आबादी को एक अरब तक पहुंचने में सैकड़ों-हजारों साल लगे, और फिर यह सिर्फ 200 या उससे भी कम वर्षों में सात गुना बढ़ गया। विश्व की जनसंख्या ने 2011 में 7 बिलियन बैरियर को पार कर लिया था, और अब यह लगभग 7.7 बिलियन हो गई है, 2030 में लगभग 8.5 बिलियन, 2050 में 9.7 बिलियन और 2100 में 10.9 बिलियन की अनुमानित वृद्धि के साथ।

 यह पर्याप्त वृद्धि ज्यादातर प्रजनन आयु तक पहुंचने वाले व्यक्तियों की संख्या में वृद्धि से प्रेरित है और इसके बाद प्रजनन दर में महत्वपूर्ण बदलाव, शहरीकरण में वृद्धि और त्वरित प्रवासन हुआ है। इन प्रवृत्तियों के आने वाली पीढ़ियों के लिए दूरगामी परिणाम होंगे।

इसको भी पढें:- अंतर्राष्ट्रीय प्लास्टिक बैग मुक्त दिवस 2021

विश्व जनसंख्या दिवस 2021: महत्व (World Population Day 2021: Significance) 

हर साल 11 जुलाई को, दुनिया विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day) मनाती है, जिसका उद्देश्य अधिक जनसंख्या से उत्पन्न कठिनाइयों को उजागर करना और इस बारे में जागरूकता बढ़ाना है कि कैसे अधिक जनसंख्या पारिस्थितिकी तंत्र और मानवता की प्रगति को नुकसान पहुंचा सकती है। यह दिन परिवार नियोजन, गरीबी, यौन समानता, मातृ स्वास्थ्य, नागरिक अधिकार, और स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं पर भी चर्चा करता है जो बच्चे पैदा करने वाली महिलाओं का सामना करते हैं।

भारत में चीन के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी है, और कोविड-19 महामारी के वर्तमान दिनों में, महामारी की दूसरी लहर के दौरान इतनी बड़ी आबादी से निपटना मुश्किल साबित हुआ, जिसने देश की मृत्यु दर को बढ़ा दिया।

 नतीजतन, न केवल देश में बल्कि विश्व स्तर पर भी जनसंख्या प्रबंधन पर जोर देना महत्वपूर्ण है।

विश्व जनसंख्या दिवस 2021: इतिहास (World Population Day 2021: History) 

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की शासी परिषद ने 1989  में विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day) मनाये जाने का प्रावधान किया। 11 जुलाई, 1989 को, जनसंख्या दिवस (Population Day) को जनता के ध्यान में रखा गया था, यानी, पांच अरब दिवस, या अनुमानित दिन जब दुनिया की आबादी पांच अरब लोगों को पार कर गई थी। इस बीच, दिसंबर 1990 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा संकल्प 45/26 के साथ इस दिन को मनाये जाने का सिलसिला शुरू हो गया, और इसे आज भी मनाया जा रहा है। 

विश्व जनसंख्या दिवस 2021: थीम (World Population Day 2021: Theme) 

 विश्व जनसंख्या दिवस 2021 का विषय है ( world Population day 2021 theme) “अधिकार और विकल्प उत्तर हैं: चाहे बच्चों के जन्म में वृद्धि हो या हलचल, प्रजनन दर में बदलाव का समाधान सभी लोगों के प्रजनन स्वास्थ्य और अधिकारों को प्राथमिकता देना है।”

इसको भी पढ़े:- International Olympic Day 2021: इस दिन का विषय, इतिहास और महत्व

विश्व जनसंख्या दिवस: उत्सव (World Population Day: Celebration) 

 World Population Day एक अंतरराष्ट्रीय आयोजन है जहां विभिन्न देश, संगठन भाग लेते हैं और दुनिया की आबादी से संबंधित प्रमुख मुद्दों पर ध्यान आकर्षित करते हैं।  इस दिन आयोजित गतिविधियों में संगोष्ठी, चर्चा, शैक्षिक सत्र, सार्वजनिक प्रतियोगिता, नारे, कार्यशालाएं, वाद-विवाद, गीत आदि शामिल हैं। इतना ही नहीं, यहां तक ​​कि टीवी चैनल, समाचार चैनल, रेडियो प्रसारण जनसंख्या से संबंधित विभिन्न कार्यक्रम, और परिवार के महत्वपूर्ण आयोजन इस दिन किये जाते हैं। 
 इसलिए, जनसंख्या के मुद्दों के महत्व और उन पर अंकुश लगाने की आवश्यकता की ओर जनता का ध्यान आकर्षित करने के लिए हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day 2021) को दुनिया भर में मनाया जाता है।

Leave a Comment

करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया
करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया