World Meteorological Day 2022 थीम, दिन के बारे में इतिहास और अन्य विवरण

World Meteorological Day 2022 यह दिन समाज की सुरक्षा और भलाई के लिए राष्ट्रीय मौसम विज्ञान और जल विज्ञान के आवश्यक सेवाओं और योगदान को दर्शाता है। तो कैसे हुई इस दिन को मनाने की शुरुआत आइए जानते हैं विस्तार से।

विश्व मौसम विज्ञान दिवस 2022(World Meteorological Day 2022)

World Meteorological Day 2021
World Meteorological Day 2022

 

 

 विश्व मौसम विज्ञान दिवस 23 मार्च 2022 को पूरे विश्व में मनाया जा रहा है । यह दिन बहुत महत्व रखता है क्योंकि यह लोगों के महत्व और पृथ्वी के वातावरण के व्यवहार पर प्रकाश डालता है। विश्व मौसम संगठन की स्थापना के उपलक्ष्य में हर साल 23 मार्च को दिन मनाया जाता है। जैसा कि कल का दिन मनाया जाएगा, बहुत से लोग विश्व मौसम विज्ञान  World Meteorological Organization दिवस 2022 के विषय और विश्व मौसम विज्ञान दिवस के इतिहास और इसके महत्व के बारे में सोच रहे हैं। उन सभी लोगों के लिए जो दिन के बारे में सोच रहे हैं, यहां वह सब कुछ है जो आपको इसके बारे में जानने की जरूरत है।

 

विश्व मौसम विज्ञान दिवस 2022 थीम (World Meteorological Day 2022 theme)

1961 से, विश्व मौसम विज्ञान दिवस हर साल एक अलग थीम के साथ मनाया जाता है। चुने गए विषय सामयिक मौसम, जलवायु या पानी से संबंधित मुद्दे हैं। इस वर्ष की थीम का शीर्षक ‘प्रारंभिक चेतावनी और प्रारंभिक कार्रवाई’ है। जब भी मौसम और जलवायु की बात आती है, तो सामान्य धारणा यह होती है कि वातावरण में क्या हो रहा है।  महासागर पृथ्वी की सतह का लगभग 70% भाग कवर करता है और यह जलवायु परिवर्तन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। राष्ट्रीय मौसम विज्ञान (National Meteorological ) और जल विज्ञान सेवाएं और शोधकर्ता नियमित रूप से समुद्र की निगरानी करते हैं और यह किस प्रकार बदल रहा है इसकी जांच कर रही हैं। इस वर्ष की थीम पृथ्वी प्रणाली के भीतर समुद्र, जलवायु और मौसम को जोड़ना है। आईये आज हम यहाँ विश्व मौसम विज्ञान के इतिहास (World Meteorological Day) पर एक नज़र डालते हैं।
 

विश्व मौसम विज्ञान दिवस का इतिहास (World Meteorological Day history)

विश्व मौसम विज्ञान संगठन,World Meteorological Organization (WMO)की स्थापना 23 मार्च 1950 को हुई थी। तब से इस दिन को विश्व मौसम विज्ञान दिवस ( World Meteorological Day) के रूप में मनाया जाने लगा। WMO एक अंतर-सरकारी संगठन है, जिसके कुल सदस्यों की संख्या 193  है। इसकी उत्पत्ति अंतर्राष्ट्रीय मौसम विज्ञान संगठन International Meteorological Organization  (IMO) से हुई थी, जिसकी जड़ें 1873 वियना अंतर्राष्ट्रीय मौसम विज्ञान कांग्रेस में लगाई गई थीं। WMO को 1950 में WMO सम्मेलन के अनुसमर्थन द्वारा स्थापित किया गया था। एक साल बाद WMO मौसम विज्ञान  meteorology  (मौसम और जलवायु), परिचालन जल विज्ञान और संबंधित भूभौतिकीय विज्ञान के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष एजेंसी बन गया। इसका मुख्यालय जिनेवा में स्थित है। विश्व मौसम विज्ञान दिवस (World Meteorological Day ) के महत्व पर एक नज़र है।
 

इस संगठन का उद्देश्य मौसम विज्ञान स्टेशन नेटवर्क (Meteorological Station Networks) स्थापित करना था।  ये नेटवर्क टेलीग्राफ और बेहतर मौसम पूर्वानुमानों से जुड़े थे।  इसने शिपिंग सेवाओं की सुरक्षा और दक्षता में योगदान दिया।

 

 अंतर्राष्ट्रीय मौसम विज्ञान संगठन (International Meteorological Organization ) 23 मार्च 1950 को विश्व मौसम विज्ञान संगठन ( World Meteorological Organization) बन गया। यह 1951 में मौसम विज्ञान, परिचालन जल विज्ञान और संबंधित भूभौतिकीय विज्ञान के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष एजेंसी बन गया।

 

 विश्व मौसम संगठन (World Meteorological Organization) लोगों की सुरक्षा और कल्याण में योगदान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।  खाद्य सुरक्षा, जल संसाधन और परिवहन प्रदान करने में इसका काम महत्वपूर्ण है।  1961 से प्रत्येक वर्ष 23 मार्च को विश्व मौसम विज्ञान दिवस मनाया जाता है।

 

विश्व मौसम विज्ञान दिवस का महत्व (World Meteorological Day significance)

 

यह दिन दुनिया भर में बहुत महत्व रखता है क्योंकि यह समाज की सुरक्षा और भलाई के लिए राष्ट्रीय मौसम विज्ञान और जल विज्ञान सेवाओं ( National Meteorological and Hydrological Services) के आवश्यक योगदान को प्रदर्शित करता है। अपने  विषय (theme) के साथ, इस दिन का उद्देश्य पृथ्वी पर विभिन्न चिंताओं के बारे में दुनिया भर में जागरूकता फैलाना है।
 

 मौसम विज्ञान दिवस Quotes (Meteorological Day Quotes)

जो लोग पृथ्वी की सुंदरता का चिंतन करते हैं, वे शक्ति का भंडार पाते हैं जो तब तक रहता है जब तक जीवन रहता है।

” हम प्रकृति को अपनी आँखों से नहीं, बल्कि अपनी समझ और अपने दिलों से देखते हैं।
 
 
 
 

Leave a Comment

करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया
करोड़पति बनकर होना चाहते हैं रिटायर तो ऐसे करें निवेश? FIFA World Cup में नोरा फतेही के साथ हुई बदतमीजी और छेड़खानी? कई देशों के GDP के बराबर है FIFA World Cup टीमों की मार्केट वैल्यू बिग बॉस के वो सदस्‍य जो लाइव शो में हुए इंटिमेट और सारी हदें पार की? तो इस कारण से अक्षय कुमार ने ‘हेराफेरी 3’ फिल्म करने से मना किया